भजन - यही वर दो मेरे राम

yahee vara do mere raama

Lyrics & Music Direction - V N Shrivastav 'Bhola'
Voices - V N Shrivastav 'Bhola' and Amita Shrivastava

from music.ramparivar.com

अर्थ न धर्म न काम रुचि, पद न चहहुं निरवान |
जनम जनम रति राम पद, यह वरदान न आन ||


रहे जनम जनम तेरा ध्यान, यही वर दो मेरे राम
सिमरूँ निश दिन हरि नाम, यही वर दो मेरे राम ।
रहे जनम जनम तेरा ध्यान, यही वर दो मेरे राम ॥
मेरे राम, मेरे राम, मेरे राम, मेरे राम ।

मन मोहन छवि नैन निहारे, जिह्वा मधुर नाम उच्चारे,
कनक भवन होवै मन मेरा, जिसमें हो श्री राम बसेरा, or
कनक भवन होवै मन मेरा, तन कोसलपुर धाम,
यही वर दो मेरे राम |
रहे जनम जनम तेरा ध्यान, यही वर दो मेरे राम ॥

सौंपूं तुझको निज तन मन धन, अरपन कर दूं सारा जीवन,
हर लो माया का आकर्षण, प्रेम भगति दो दान,
यही वर दो मेरे राम |
रहे जनम जनम तेरा ध्यान, यही वर दो मेरे राम ॥

गुरु आज्ञा ना कभी भुलाऊँ, परम पुनीत राम गुन गाऊँ,
सिमरन ध्यान सदा कर पाऊँ, दृढ़ निश्चय दो राम !
यही वर दो मेरे राम,
रहे जनम जनम तेरा ध्यान, यही वर दो मेरे राम ॥

संचित प्रारब्धों की चादर, धोऊं सतसंगों में आकर,
तेरे शब्द धुनों में गाकर, पाऊं मैं विश्राम,
यही वर दो मेरे राम |
रहे जनम जनम तेरा ध्यान, यही वर दो मेरे राम ॥

बधाई गीत - श्री गणेश जन्मोत्सव

बधाई गीत - श्री गणेश जन्मोत्सव 


सखी धूम मची शंकर अंगना 

 शंकर अंगना गौरी के अंगना  सखी धूम मची शंकर अंगना

सखी धूम मची शंकर अंगना 

शिव गौरी घर सिद्ध विनायक , प्रगट भये तन उबटन मा 

सखी धूम मची शंकर अंगना 

बाज रही मंगल शहनाई , और बजे ढोलक चंगना 

सखी धूम मची शंकर अंगना 

चंद्रमुखी परबत कन्याएं , छेड़ें राग मधुर सुर माँ 

सखी धूम मची शंकर अंगना 

नील गगब से कौतुक देखें --सुरगण देखें ,देव गण देखें 

गौरी को सुंदर ललना ,

सखी धूम मची शंकर अंगना 

इन्द्रलोक की परियां नाचें , खनकाएं झांझर  कंगना 

सखी धूम मची शंकर अंगना 

============================

Click here to listen to the bhajan

भजन - हारिये न हिम्मत बिसारिये न राम

Listen to Hariye Na Himmat MP3
by V N Shrivastav 'Bhola
from Shree Ram Sharanam

हारिये ना हिम्मत, बिसारिये ना राम .
तू क्यों सोचे बंदे, सब की सोचे राम ..

दीपक ले के हाथ में, सतगुरु राह दिखाये .
पर मन मूरख बावरा, आप अँधेरे जाए ..

पाप पुण्य और भले बुरे की, वो ही करता तोल .
ये सौदे नहीं जगत हाट के, तू क्या जाने मोल ..

जैसा जिस का काम, पाता वैसे दाम .
तू क्यों सोचे बंदे, सब की सोचे राम ..

हारिये ना हिम्मत, बिसारिये ना राम .
तू क्यों सोचे बंदे, सब की सोचे राम ..

https://www.youtube.com/watch?v=RU_3hvYkabM&feature=youtu.be

ब्रज में बजत बधाई , अरे माई मैं सुनि के आई

Hereunder my latest composition of 'Badhaaii Geet' , based on a popular LOK GEET of VRINDAABAN .
Wish all sing this in the coming Janmashtami functions  

With Love Blessings Best Wishes and 
JANMASHTAMI KII Hardik Badhaaii

===========================  
Sri Krishna Janm Badhaai Geet
श्री कृष्ण जन्म का बधाई गीत
====================

Tiin lok ke swaamii "Sri Hari" pragte bn Yaduraaii 
Nandgaaon men Jasudaa Maaii jaayo Krishan Kanhaaii
तीन लोक के स्वामी "श्री हरि" प्रगट्यो बन यदुराई 
नन्द गाँव में जसुदा नाई जायो क्रिशन कन्हाई  

brij men bjt bdhaaii are maaii main sun ke aaii 
ब्रज में बजत बधाई , अरे माई मैं सुनि के आई
nnd duare naubt baje aur bje shahnaaii   
नन्द दुआरे नौबत बाजे और बजे शहनाई 

rtn jdit chndn plne pr sohe kishn knhaii 
रत्न जडित चन्दन पलने पर , सोहे किशन कन्हाई 

bhr bhr thal mogra bela ,maliniya le aaii  
भर भर थाल मोगरा बेला ,माँलिनिया ले आई 
bndnwar bna phuuln se , dyodhii daii sajaaii 
बन्दनवार बना फूलन से ,ड्योढी दई सजाई 

nnd gaanv gmkaa sugndh se , prmudit log lugaaii .    Are 
नंदगांव गमका सुगंध से , प्रमुदित लोग लुगाई   ! अरे माई --------

ubtn kajr tel mahaavr , nauniyan le aaii .  Are maaii -------
उबटन काजर तेल महावर , नाउनिया ले आई   !  अरे  माई --------

nnd lutaaven knk dhaan gud rbdii khiir mlaaii . Are maaii 
नंद लुटावें कनक धान गुड़ रबडी खीर मलाई   !    अरे माई---------- 

luut luut khayen sb purjn  jy jykaar lgaaii .  Are maaii ------
लूट लूट खाएं सब पुरजन जय जयकार लगाई !-    अरे माई --------------- 

=================================================
( बृज की पारंपरिक धुन पर आधारित  व्ही एन श्रीवास्तव की आज की शब्द रचना )

भजन - हे दयामय आप ही संसार के आधार हो

MP3 Audio of Bhajan

he dayamay aap hi sansar ke adhar ho

Voice - Shri Shiv Dayal Ji Shrivastav

हे दयामय आप ही संसार के आधार हो |
आप ही करतार हो हम सबके पालनहार हो ||

जन्म दाता आप ही माता पिता भगवान हो |
सर्व सुख दाता सखा भ्राता हो तन धन प्राण हो ||

आपके उपकार का हम ऋण चुका सकते नहीं |
बिन कृपा के शांति सुखका सार पा सकते नहीं ||

दीजिये वह मति बने हम सदगुणी संसार में |
मन हो मंजुल धर्मं मय और तन लगे उपकार में ||

हे दयामय आपका हमको सदा आधार हो |
आपके भक्तों से ही भरपूर यह परिवार हो ||

छोड़ देवें काम को और क्रोध को मद लोभ को |
शुद्ध और निर्मल हमारा सर्वदा आचार हो |

प्रेम से मिल मिल के सारे गीत गायें आपके |
मन में बहता आपका ही प्रेम पारावार हो ||

जय पिता जय जय पिता, हम जय तुम्हारी गा रहे ||
रात दिन घर में हमारे आपकी जयकार हो ||

धन धान्य घर में जो सभी कुछ, आप का ही है दिया |
उसके लिये प्रभु आपको धन्यवाद सौ सौ बार हो ||

MP3 Audio of Bhajan