भजन - हारिये न हिम्मत बिसारिये न राम

Listen to Hariye Na Himmat MP3
by V N Shrivastav 'Bhola
from Shree Ram Sharanam

हारिये ना हिम्मत, बिसारिये ना राम .
तू क्यों सोचे बंदे, सब की सोचे राम ..

दीपक ले के हाथ में, सतगुरु राह दिखाये .
पर मन मूरख बावरा, आप अँधेरे जाए ..

पाप पुण्य और भले बुरे की, वो ही करता तोल .
ये सौदे नहीं जगत हाट के, तू क्या जाने मोल ..

जैसा जिस का काम, पाता वैसे दाम .
तू क्यों सोचे बंदे, सब की सोचे राम ..

हारिये ना हिम्मत, बिसारिये ना राम .
तू क्यों सोचे बंदे, सब की सोचे राम ..

https://www.youtube.com/watch?v=RU_3hvYkabM&feature=youtu.be

भजन - हे दयामय आप ही संसार के आधार हो

MP3 Audio of Bhajan

he dayamay aap hi sansar ke adhar ho

Voice - Shri Shiv Dayal Ji Shrivastav

हे दयामय आप ही संसार के आधार हो |
आप ही करतार हो हम सबके पालनहार हो ||

जन्म दाता आप ही माता पिता भगवान हो |
सर्व सुख दाता सखा भ्राता हो तन धन प्राण हो ||

आपके उपकार का हम ऋण चुका सकते नहीं |
बिन कृपा के शांति सुखका सार पा सकते नहीं ||

दीजिये वह मति बने हम सदगुणी संसार में |
मन हो मंजुल धर्मं मय और तन लगे उपकार में ||

हे दयामय आपका हमको सदा आधार हो |
आपके भक्तों से ही भरपूर यह परिवार हो ||

छोड़ देवें काम को और क्रोध को मद लोभ को |
शुद्ध और निर्मल हमारा सर्वदा आचार हो |

प्रेम से मिल मिल के सारे गीत गायें आपके |
मन में बहता आपका ही प्रेम पारावार हो ||

जय पिता जय जय पिता, हम जय तुम्हारी गा रहे ||
रात दिन घर में हमारे आपकी जयकार हो ||

धन धान्य घर में जो सभी कुछ, आप का ही है दिया |
उसके लिये प्रभु आपको धन्यवाद सौ सौ बार हो ||

MP3 Audio of Bhajan

भजन - नारायण जिनके हिरदय में

NarayaNa Jina Ke - MP3
Narayana jinake hiradaya me
Voice - V N Shrivastav 'Bhola'

नारायण जिनके हिरदय में
सो कछु करम करे न करे रे ..

नाव मिली जिनको जल अंदर
बाहु से नीर तरे न तरे रे .

पारस मणि जिनके घर माहीं
सो धन संचि धरे न धरे .

सूरज को परकाश भयो जब
दीपक जोत जरे न जरे रे ..

ब्रह्मानंद जाहि घट अंतर
काशी में जाये मरे न मरे रे ..

नाव मिली जिनको जल अंदर
बाहु से नीर तरे न तरे रे .

Listen to this bhajan sung by VNS Bhola and family
on BholaKrishna youtube channel
at
https://www.youtube.com/watch?v=bztCtDnfY4w


भजन : करुणा सुनो श्याम मेरी

करुना सुनो श्याम मेरी
मैं तो होय रही चेरी तेरी ॥
करुना सुनो श्याम मेरी

दरसन कारन भयी बावरी , बिरह व्यथा तन घेरी
तेरे कारन जोगन हूँगी , दूंगी नगर बिच फेरी
कुञ्ज बन हेरी हेरी ,
करुना सुनो श्याम मेरी

अंग बभूत गले मृग छाला, यूं तन भसम करूंगी
अजहूँ न मिल्या श्याम अबिनासी, बन बन बीच फिरुंगी
रोऊँ नित हेरी फेरी ,
करुना सुनो श्याम मेरी

जब मीरा को गिरिधर मिलिया , दुःख मेटन सुख भेरी ।
रोम रोम साका भई उर में , मिट गयी फेरा फेरी
रही चरनन तर चेरी ,
करुना सुनो श्याम मेरी

Listen to this bhajan by VNS Bhola
on Bholakrishna youtube channel 
at
https://www.youtube.com/watch?v=eIlHOoUGlKw



भजन: मेरे राम गरीब निवाज़

अब तुम बिन को मोरि राखे लाज,
मेरे राम गरीब निवाज़ ॥

मैं असहाय अधम अग्यानी, पतितन को सिरताज,
पतित उधारन विरदु आपनो, सिद्ध करो महाराज ॥
अब तुम बिन . . .

जिन जिन ध्याये तिन तिन पाये, अजामील गज व्याध,
हमरी बारी जाय छिपे तुम, किन कुंजन में आज ॥
अब तुम बिन . . .

धीरज दया क्षमा शुचिता दम संयम सच को ज्ञान,
दो हमको ये सद् गुन सारे, कृपा करो महाराज ॥
अब तुम बिन . . .

मैं अपराधी हूँ बड़ाऽऽऽ, (मुझ में) अवगुन भरा विकार,
क्षमा करो अपराध सब, अपना विरद विचार ॥
अब तुम बिन . . .

Listen to the bhajan sung by Shri VNS Bhola from Shree Ram Sharanam

Watch on Bholakrishna channel on Youtube at www.youtube.com/embed/hCShop9RfWE